जयशंकर प्रसाद द्विवेदी के गीत संग्रह हिन्दुस्तानी एकेडेमी के ‘भिखारी ठाकुर भोजपुरी’ सम्मान खाति चयनित

-सम्मान के संगे  मिली एक लाख रुपए

गाजियाबाद ! देश के प्रतिष्ठित साहित्यिक संस्था हिन्दुस्तानी एकेडेमी प्रयागराज ने शुक्रवार के  अपने राष्ट्रीय स्तर के पुरस्कारन  के  घोषणा कर देहलस। एह बेरी भोजपुरी क्षेत्र में भिखारी ठाकुर सम्मान आखर – आखर गीत के लिए गाजियाबाद के रहे वाले जयशंकर प्रसाद द्विवेदी के डीहल जाई। एह सम्मान का संगे उनुका के  संस्था के ओरी से एक लाख रुपए के धनराशि दीहल जाई।  भोजपुरी के क्षेत्र में दीहल जाये वाला ई एगो महत्वपूर्ण सम्मान बाटे। वर्ष 2020 के सभे सम्मान आगामी आयोजन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हाथ से दीहल जाई। अवंतिका फेज -2 में रहि रहल जयशंकर प्रसाद द्विवेदी  इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्यूनिकेशन में बीई कइले बाड़ें। पेशा से इंजीनियर जयशंकर प्रसाद द्विवेदी कई बरीस से अपने मातृभाषा भोजपुरी के खाति काम कर रहल बाड़न। उनके एह उपलब्धि के खाति गाजियाबाद के साहित्यिक बिरादरी जुड़ल लो लगातार बधाई दे रहल बाड़ें। उ 5 बरीस से भोजपुरी साहित्य सरिता मासिक पत्रिका के संपादन आ प्रकाशन करि रहल बाड़ें। उहाँ के बतवानी कि उ हिन्दीओ में लगातार लिखत रहेलन, बाकि भोजपुरी भाषा से उनुका अनघा लगाव बाटे। आखर-आखर गीत के अलावे उनुका पीपर के पतई आ जबरी पहुना भइल जिनगी कविता संग्रहो चर्चित कृति रहल बाड़ी। एकरा अलावे जयशंकर प्रसाद द्विवेदी के कई गो साझा संग्रह प्रकाशित हो चुकल बा।

Related posts

Leave a Comment