कोरोना

अइसन फइलल कोरोना हो रामा,

जीएल भइल मुश्किल।

चीन से आइल इ दुनियाँ मे छाईल,
बंद भइल बा कतहुँ आइल जाईल,
कइसन रूप डरौंना हो रामा . 
जीएल0-

कहीं लाकडाउन,कहीं कर्फ्यू लगवलस,
घर घर मे सबके ई बंदी बनवलस,
देखत लगत घिनौंना हो रामा जीएल0


सुनिला कि छुअला से इ बढ़ी जाला,
अँगुरी पकड़ि मुँहवा में समाला,
बनि जाला गले क फसौंना हो रामा जीएल0


दिन दूना रात चौगुना बढ़त बा,
जहाँ देखा उहाँ एकर पारा चढ़त बा,
मरतो नइखीं मर्किनौंना हो रामा जीएल0


एकरा से बचे बदे एकै उपइया,
एक दूजे से रहा दूर दूर भइया,
साफ रखिहैं ओढ़ना बिछौना हो रामा जीएल0


“लाल” मनुजता क
लछिमन बा घाहिल,
मुश्किल भइल बाटे बूटी लियाइल,
भारत करत पठौना हो रामा जीएल भइल मुश्किल।।अइसन0

  • हीरा लाल द्विवेदी ‘लाल’

Related posts

Leave a Comment